करो कुछ ऐसा दुनिया करना चाहे आपके जैसा!

करो कुछ ऐसा दुनिया करना चाहे आपके जैसा!

अगर आप किसी काम में सफल नही होते हैं और अकसर कहने लगते हैं की मै बेकार हूं, किसी काम का नही हूं तो-

यकिन मानिये अगर आप ऐसा कह रहे हैं तो गलत कह रहे हैं।

 

चलिए एक छोटी कहानी पढ़ते हैं-

एक बार की बात है, गुलाब का एक पत्ता अपने फूल से बोला, “यार तुम्हारे तो बहुत मज़े हैं, लोग हमेशा तुम्हारी तारीफों की पूल बांधते रहते हैं, हमारी तरफ तो कोई ध्यान ही नही देता”।

फूल ने पत्ते से कहा, “नही यार ऐसा कुछ नही है दुनिया में हर चीज का मह्त्व है, उसी तरह तुम्हारा भी है बस उसे पहचानने की जरुरत है”।

इस तरह से उस फूल ने उसे बहुत समझाया लेकिन पत्ते ने एक ही चीज अपने मन मे बिठा लिया की उसका जीवन बेकार है।

खैर दिन बीता मौसम बदला आँधी आई और एक दिन वही पत्ता टूटकर अलग होकर दूर पानी में जा गिरा। अब वो चाहकर भी कुछ नही कर सकता था। उसने शांत ही रहना अच्छा समझ। कुछ देर के बाद उसने महसूस किया की उसके ऊपर एक चींटी, जो पानी मे गिर गया था, वो बचने के लिये बैठ गया। पत्ता धीरे-धीरे किनारे लग गया और चींटी की जान बच गयी। चींटी ने उसे धन्यबाद देना चाहा लेकिन पत्ता ने उसे बीच में ही रोकते हुए कहा-

“धन्यबाद तो मुझे तुमसे कहना चाहिए मित्र क्योंकि तुम्हारी वजह जीवन को जाना, अन्तिम क्षण में जीवन के मह्तव जाना, उस फुल की बातों का मतलब पता चला, दुनिया में कोई भी चीज़ बेकार नही होती, आज मै किसी की जान बचाकर बहुत ही गौर्वंतित महसूस कर रहा हूँ, एक बार फिरसे शुक्रिया.”

मित्रों ये सिर्फ एक कहानी ही नही है बल्कि हमें इससे बहुत कुछ सीख मिलती है। दुनिया में हर इन्सान का व्यक्तित्व अलग अलग होता है और हर इन्सान सफल होने का दम भी रखता है। अगर आप भी कुछ करना चाहते हैं तो अपने जुनून को पहचाने और उसे उड़ने की पूरी छूट दें। आपके सपनों को पंख देने वाला आपका जुनून ही है लेकिन दोस्तों उड़ान तो आप को ही भरनी है।

करना क्या है?

सबसे पहले आप जो करना चाहते हैं उसे सम्भव मान लें। आगे सवाल यही उठता है की-

“क्या मेरे सम्भव मान लेने भर से काम में सफलता मिलेगी?”

और जवाब यही है मित्रों आप जरुर सफल होन्गे। अपने सपनों को यदि आप सम्भव होना मानते हैं तो 50% प्रॉब्लम वहीं दूर हो जाती हैं क्योंकि 50% समस्याएं उन चीज़ों से जुड़ी होती है जो असल मे है ही नही। उदहारण के लिये कुछ ऐसी समस्याएँ बता रहा हूं –

लोग क्या कहेंगे,

इसमे बहुत रिस्क है,

पता नही सफलता मिलेगी की नही,

कल कर लेंगे अभी बहुत समय है, वगैराह-वगैराह।

ना जाने ऐसी कितनी समस्याएँ आयेंगी जो आपको आगे बढ़ने से रोकेगी। इसके बाद भी यदि आप अपने रास्ते पे लगातार बिना घबराये बढ रहे हैं तो आप साबित कर रहे हैं की आपका ध्यान लक्ष्य पर टिका है।

अब आपके पास 50% सम्स्यायें रह जायेंगी जो की जो की पहले वाले 50 % समस्याओं से कठिन लगेगा लेकिन यकिन मानिये ये समस्याएँ बिल्कुल ही तार्किक होंगी और आप इसका हल भी निकाल सकते हैं लेकिन इसके लिए अपने काम को बिल्कुल ही योजनाबद्ध करना होगा।

सबसे पहले ये विचार करें की आपको करना क्या है क्योंकि हमें ये भी नहीं पता होता है की हमे करना क्या है बस लोग जो कर रहें हैं उन्ही की नक़ल करते हुए दोहरा लेते हैं. हम आज जिस दुनिया में जी रहे हैं वो एक तरह से फिक्स्ड पैटर्न लाइफ बन चुका है. एक दुसरे को दोहराते जा रहे हैं. हम अपने पैशन से जुड़े हुए चीजों को बहुत कम ही करते हैं.

अपने जूनून(passion) को पहचाने. आप किसी काम को पूर्णतया समर्पित होकर घंटों कर सकते हैं जहाँ आपको समय का भी पता ना चले वही आपका जूनून है. ये आपका शौक भी हो सकता है. जी हाँ मित्रों अपने शौक को काम में बदलनें का रास्ता निकालें सफलता जरुर मिलेंगी. अगर सही मायने में अपने पैशन को काम में बदलते हैं तो आपकी लाइफ कभी बोरिंग नहीं बनेगी. बस आपको अपने जूनून को पहचानना है, और उसे काम में बदलना है, ये हर इंसान में होता है. 

Follow your real being, do what you love!

मिलते हैं अगले पोस्ट में तब तक के लिए शुक्रिया 🙂

One thought on “करो कुछ ऐसा दुनिया करना चाहे आपके जैसा!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *