रेलवे के ग्रुप D की परिक्षा में ITI की बाध्यता खत्म

रेलवे के ग्रुप D की परिक्षा में ITI की बाध्यता खत्म:

रेलवे ने जो हाल ही में 90000 नई भर्तियाँ निकाली है उसमे बहुत बड़ा बदलाव लाई है. RRB के सूचना के अनुसार ग्रुप D यानी level 1 के सभी पदों के लिए ITI की requirement समाप्त कर दी गई है. इससे पहले लगभग सभी पोस्ट के लिए ITI अनिवार्य था लेकिन अब इसे 10th or ITI कर दिया गया है. इसके अलावा उम्र सीमा में भी 2 वर्ष बढ़ा दी गई है. उम्मीदवार के पास 15 भाषाओं में परिक्षा देने का विकल्प होगा और साथ ही वो किसी भी भाषा में हस्ताक्षर कर सकते हैं.

इसके तहत असिस्टेंट लोको पायलट तकनीशियन पद के लिए अनारक्षित वर्ग की आयु सीमा 28 से बढाकर 30 वर्ष, अन्य पिछड़ा वर्ग की 31 से 33 तथा अनुसूचित जाती व अनुसूचित जनजाति की 33 से 35 कर दी गई है. इसी प्रकार level 1 यानी ग्रुप D के लिए उक्त आयु सीमाएं क्रमशः 31 से 33, 34 से 36 तथा 36 से 38 कर दी गई है.

प्रश्नपत्र हिन्दी, अन्ग्रेजी, उर्दू, असमिया, बंगाली, गुजराती, कन्नड, कोंकणी, मलयालम, मनिपुरी, मराठी, उड़ीया, पंजाबी, तमिल तथा तेलुगू में होन्गे इन भाषा में हस्ताक्षर भी कर सकेंगे.

आवेदन शुल्क में छूट:

रेलवे ने आवेदन शुल्क में छूट देने की घोषणा की है. अनारक्षित वर्ग के जो उम्मीदवार परिक्षा में शामिल होन्गे, उन्हें 500 में से 400 रुपये परीक्षा देने के बाद लौटा दिए जाएंगे. बांकी के जो उम्मीदवार जैसे अनुसूचित जाति व जनजाति, दिव्यान्ग, पूर्व सैनिक, महिला, अल्पसंख्यक, व अर्थिक रूप से कमजोर उनसे से जो 250 रुपए लिए जाएंगे उन्हे परिक्षा के बाद पूरी राशि यानी 250 रुपए लौटा दिए जाएंगे.

For confirmation please visit: Ministry of Railway.

BY: Origin Classes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *